फूलों की वादियों मे

 फूलों की वादियों मे़ मेरा भी बसेरा था,
कुछ पल के लिए ही कोई तो मेरा था !

हर सुबह इंतजार में खुलती थी आँखें,
वो भी क्या खूबसूरत सवेरा था!

वो बरसात हमें मिलने न देती थी,
ना जाने क्यों घटाअो ने हमे घेरा था!

भूल ना पाई आज भी उस एहसास को,
जब जूल्फों पे मेरे हाथ तुमने फेरा था!

न जाने क्यों तुम छोड़ गए मुझे तन्हा,
ये सॉसे ये धड़कन सब कुछ तो तेरा था !

Comments

Post a Comment

Popular Post

Love Doorie Shayari। door hote gye

Love lonely poetry। Mohabbat hai akelepan se

Dard shayari । Wo dard ki ghadi thi

Judaai poem। Kasam duriyo ki

2021 love poem। tum ho

Intezar poem । Mera Intejar

Best love poetry। Mohabbat likh rahi hu

Love poem। Intajar hota hai

Best Love Poetry 2021। Pyar ho jaye